बड़ी चुनौती बन रहा है ह्रदय स्वस्थ रखना, करें ये 7 उपाय

भारत में ह्र्दय की कमजोरी की शिकायत दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही है। भारत में करीब 3 करोड़ दिल के रोगी हैं और हर साल, करीब 2 लाख हार्ट सर्जरी की जाती हैं। व्यक्ति का जीवन आरामतलब हो गया है और फिर वर्तमान समय का खानपान भी ह्र्दय रोगियों की संख्या बढ़ाने में अहम भूमिका निभा रहा है। हृदय रोग की समस्या पहले जहाँ बुजुर्ग लोगों में पायी जाती थी वहीं अब कम उम्र के बच्चों और नौजवान भी इसके शिकार हैं।

हम आपको बता रहे हैं वे 7 उपाय, जो कि आपके ह्र्दय को स्वस्थ रखने में आपकी सहायता करेंगे।  

नियमित ग्रीन टी पिएं
ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट्स बहुतायत में होते हैं, जो कि आपके कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होते हैं। ये तत्व आपके रक्तचाप को नियंत्रित करते हैं और उन मुक्त कणों को भी मारते हैं, जो कि कैंसर रोग बढ़ाने का प्रमुख कारक होते हैं। ये तत्व खून के जमाव यानी थक्के बनने को भी रोकते हैं, जिससे हार्ट अटैक की आशंका न्यूनतम होती है।  

ऑलिव ऑयल का प्रयोग  
खाना बनाने के लिए जैतून तेल का प्रयोग ह्र्दय की हेल्थ के लिए लाभदायक है क्योंकि इसमें मौजूद फैट, बुरे कोलेस्ट्रॉल को कम करने में सहायक होते हैं। ग्रीन टी की ही तरह ऑलिव ऑयल में भी बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सीडेंट होते हैं, जो कि दिल की कमजोरी के अलावा कई अन्य बीमारियों से लड़ने में भी मदद करते हैं।

पर्याप्त नींद लेना आवश्यक
किसी भी व्यक्ति को कम से कम 6 से 8 घंटे की नींद लेना आवश्यक है विशेषकर जब आप 40 साल से उपर के हो जाएं। जब आप पर्याप्त नींद नहीं लेते तो शरीर से निकलने वाले स्ट्रेस हार्मोन आपकी उन धमनियों को अवरुद्ध कर देते हैं, जो कि ह्र्दय को खून पहुंचाती हैं। इस वजह से हार्ट अटैक की आशंका की गुना बढ़ जाती है।

फाइबर युक्त आहार लाभदायक
पहले जो भोजन खाया जाता था, वह फाइबरयुक्त होता था, लेकिन अब ऐसा नहीं है, जिस कारण ह्रदय रोगियों की संख्या निरंतर बढ़ती जा रही है। इसलिए आपको फाइबरयुक्त आहार ही लेना चाहिए। फाइबरयुक्त भोजन आपके ह्र्दय से जुड़ी बीमारियों की रोकथाम करने में मददगार साबित होता है।  

नाश्ते में फ्रुट जूस का सेवन फायदेमंद
विभिन्न फ्रुट, विभिन्न रोगों में लाभदायक होते हैं, साथ ही, ये ह्र्दय रोग के खतरे को न्यूनतम करते हैं। संतरे के जूस में फोलिक अम्ल होता है, जो ह्र्दय के स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। इसी तरह अंगूर के जूस में फ्लेवोनॉइड्स और रिस्वराट्रॉल तत्व होते हैं, जो कि आर्टरी को ब्लॉक होने से रोकने में सहायक होते हैं।

रोज़ व्यायाम करें
यदि आप रोज करीब 20 मिनट तक व्यायाम करते हैं तो आपको हार्ट अटैक होने का खतरा एक-तिहाई तक घट जाता है। योगा करने, वॉक पर जाना, एरोबिक्स या डांस क्लास आदि भी ह्र्दय के स्वास्थ्य के लिए लाभदायक होते हैं।

खाने में लहसुन का प्रयोग अधिक करें
लहसुन का नियमित प्रयोग आपकी रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है। ये कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करता है, जिससे ह्रदयघात की आशंका कम होती है।